DBMS क्या है?

DBMS का पूरा नाम Database Management System है! यह एक ऐसा Computer Software System है जिसमें Data संग्रहित (Store) किया जाता है! इसके अलावा Data को access, retrive, create, delete, update भी किया जा सकता है! साथ ही DBMS, FMS से किस प्रकार अलग है, इस article में जानते है!

Concepts

  • Data: Data वे अधूरी अपूर्ण जानकारियां व आंकड़े (Raw Facts & figures) है, जिसे हम अर्थपूर्ण और महत्वपूर्ण जानकारी (Information) के रूप में बदलते है! ये असंगठित व अनियोजित (Unorganised) होते है! इसके अंतर्गत जरूरी अथवा गैर-जरूरी रिकॉर्ड दोनों ही उपलब्ध होते है!
  • Database: एक-दुसरे से सम्बंधित डेटा (Related Data) के संग्रह को database कहते है! इसे record collection भी कहा जाता है!
  • DBMS: Database Management System एक कंप्यूटर पर आधारित record keeping system है, जिसके अंतर्गत records store (संग्रहित) किये एवं प्राप्त (retrieve) किये जाते है! DBMS, database से सम्बंधित कुछ अन्य operation करने की भी अनुमति देता है! जैसे- database structure और records को create, update, delete करना!
Student Database

Database Users

DBA (DataBase Administrator):

DataBase Administrator, DBMS का वह मुख्य व्यक्ति होता है, जिसके द्वारा database का structure define किया जाता है! इस structure पर कई integrity rules एवं constaints लागू किये जाते है! DBA, database पर विभिन्न operations के लिए विभिन्न users को अधिकार देता है! इस प्रकार किसी DBMS को नियंत्रित एवं प्रबंधित (control & manage) करने का कार्य DBA द्वारा किया जाता है!

System Analyst & Application Programmer:

Database से सम्बंधित किसी समस्या का विश्लेषण तथा उसका समाधान (solution), system analyst द्वारा किया जाता है! इस विश्लेषण के आधार पर एप्लीकेशन प्रोग्राम बनाये जाते है! इसे बनाने के लिए अलग-अलग programming languages का उपयोग कर सकते है!

End User:

ये database में data enter करते है और वहां से record retrieve (access) करते है! इसके लिए DBMS के कई data entry फॉर्म्स और रिपोर्ट्स उपयोग की जाती है! End User को भी निम्न दो भागों में वर्गीकृत किया है!

  • Query User: ये users, database पर query के द्वारा operation करते है और ये केवल Insert, delete, update ही कर सकते है!
  • Naive User: ये user पूरी तरह से कंप्यूटर प्रशिक्षित नहीं होते! ये किसी विशिष्ट एप्लीकेशन पर operation करते है! जैसे- ATM users

Advantages of DBMS

Advantages of DBMS
Data Redundency:

Redundency का अर्थ होता है प्रतियां बनना (Duplication). FMS में डाटा/रिकॉर्ड की बहुत से प्रतियां (copies) होती है! एक फ़ाइल में डाटा को update कर भी दिया जाए तो भी दूसरी फ़ाइल के डाटा में कोई बदलाव (modification) नही होता!

इसका समाधान DBMS में मिलता है! यहाँ डाटा, DBA (DataBase Administrator) के नियंत्रण में एक ही जगह store होता है! जिसे अलग-अलग users, access कर जरूरी updation कर सकते है!

जैसे किसी स्टूडेंट को कॉलेज के सभी विभागों में जाकर अपना पता बदलवाने की जरूरत नही है, वह एक मुख्य जगह बदलवा लें, तो सभी विभाग उस डाटा को स्वीकार कर लेंगे!

Data Integrity:

DBMS में डाटा की संगतता (consistency) व सटीकता (accuracy) बनी रहती है! इसे ही Data Integrity कहते है!अलग-अलग यूज़र्स, डाटा को एक साथ update करे या अलग समय पर, लेकिन ये updation तुरंत एवं सटीक होना चाहिए!

जैसे- यदि एक ही समय पर कोई व्यक्ति, अपने बैंक एकाउंट में डिपाजिट करे और कुछ ही क्षणों बाद ATM से पैसे निकाल ले! तो यहां बैंक एकाउंट में अपडेट तुरंत एवं सटीक होना चाहिए, तभी जमा किये गए पैसे, ATM से निकाले जा सकते है!

Data Security:

DBMS में डाटा का नियंत्रण DBA (DataBase Administrator) द्वारा किया जाता है! DBA ही यूज़र्स को डाटा access करने के लिए अधिकृत (authorized) करता है! UserID/password की मदद से यूजर डाटा को access कर जरूरी बदलाव करता है! Database Software ही, data privacy उपलब्ध कराते है!

Faster Data Access:

File Management System की तुलना में DBMS ज्यादा तेजी और सटीकता से काम करता है! DBMS में डाटा, इस प्रकार से store रहता है कि जब यूजर उसे access करे तो वह सामंजस्यपूर्ण (Synchronised) तरीके से यूजर को प्रदान हो! इससे data access गति बढ़ जाती है और updation का प्रभाव तुरंत दिखने लगता है!

Data Inconsistency:

Data Inconsistency वहां होती है जब एक ही डाटा अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग रूपों में होता है! Redundancy ना होने के कारण DBMS में inconsistency की समस्या नही होती क्योंकि डाटा को एक जगह अपडेट करने पर सभी जगह वह update हो जाता है! इससे कंसिस्टेंसी बरकरार रहती है!

इन सभी विशेषताओं के कारण Traditional File Management System के अपेक्षाकृत DataBase Management System कही ज्यादा बेहतर है!

मैं प्रमीत शर्मा हूं। मुझे आपकी सभी पसंदीदा हस्तियों के बारे में लेख लिखना अच्छा लगता है! कृपया मुझसे संपर्क करें यदि आप कुछ सुझाव देना चाहते हैं या सिर्फ नमस्ते कहना चाहते हैं!

Leave a Comment