President Election 2022: Draupadi Murmu (द्रौपदी मुर्मू) के बारे में जानिए!

भारत के महामहिम राष्ट्रपति श्रीरामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) का कार्यकाल 24 जुलाई 2022 को पूर्ण हो रहा है! इसी के साथ भारत के 16वें राष्ट्रपति को चुनने की प्रक्रिया शुरू हो गयी है! जहाँ विपक्ष की ओर से यशवंत सिन्हा (Yashvant Sinha) को उम्मीदवार बनाया गया है! वहीं NDA सरकार की तरफ से द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) का नाम आया है!

सरकार के पास Majority है और अन्य कुछ दलों का समर्थन भी प्राप्त है! इसलिए द्रौपदी मुर्मू का भारत की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति बनना लगभग तय माना जा रहा है! कौन है द्रौपदी मुर्मू, उनकी क्या उपलब्धियाँ और संघर्ष रहा जीवन मे, जानते है सब कुछ!

श्रीमति द्रौपदी मुर्मू

द्रौपदी मुर्मू ओड़िशा की एक आदिवासी नेता के रूप में जानी जाती है! जो कि हाल ही में राष्ट्रपति चुनाव-2022 में सत्तारूढ़ दल NDA (National Democratic Alliance) की तरफ से खड़ी हुई है!

पारिवारिक जीवन

द्रौपदी जी का जन्म 20 जून 1958 को ओडिशा में मयुरभंज जिले के बैदापोसा गाँव में हुआ था! इनके पिता बिरंचि नारायण टुडु थे, जो अपने गाँव के प्रधान रहे! द्रौपदी जी का विवाह श्याम चरण मुर्मू से हुआ था! विवाह से उन्हें दो बेटे एवं एक बेटी हुई!

उन्होंने अपने व्यावसायिक जीवन की शुरुआत शिक्षिका के तौर पर की! पति एवं दोनों बेटों की असमय मृत्यु हो जाने के कारण उन्हें जीवन में कठिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ा ! फिर भी उन्होंने संघर्ष करना नहीं छोड़ा!

राजनीतिक जीवन

एक सफल शिक्षिका होने के बाद उन्होंने (Draupadi Murmu)अपना अगला कदम राजनीतिक क्षेत्र में बढ़ाया! 1997 में पहली बार पार्षद के रूप में चुनी गयी! इसके बाद भाजपा की अनुसूचित जाति मोर्चा की उपाध्यक्ष के रूप में अपनी सेवायें दी! साथ ही वें राष्ट्रीय आदिवासी मोर्चे की सदस्य भी रहीं!

वें भाजपा (BJP) की टिकट से दो बार (2000, 2009) मयूरभंज जिले की MLA बनी! BJP-BJD सरकार में “वाणिज्य एवं परिवहन (Commerce & Transport)” और “मछली एवं पशुपालन(Fish & Animal Husbandry)” मंत्री के रूप में कार्य किया !

इसके बाद 2015 में उन्हें झारखण्ड की राज्यपाल(Governor) के रूप में नियुक्त किया गया! द्रौपदी जी झारखण्ड की 9वीं तथा पहली महिला राज्यपाल के रूप में नियुक्त हुई थी!

राष्ट्रपति चुनाव कार्यक्रम

दिनांककार्यक्रम
13 June 2022चुनाव का नोटिफिकेशन जारी
29 June 2022नामांकन की अंतिम दिनांक
30 June 2022नामांकन की जाँच
02 July 2022नाम वापस लेने की अंतिम दिनांक
18 July 2022मतदान
21 July 2022मतदान का नतीजा

21 July 2022 को नतीजे आयेंगे, अभी दोनो पक्ष प्रयास कर रहे है! यदि फैसला सरकार के पक्ष में रहा तो भारत को जल्द ही पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति मिलेगी!

मैं प्रमीत शर्मा हूं। मुझे आपकी सभी पसंदीदा हस्तियों के बारे में लेख लिखना अच्छा लगता है! कृपया मुझसे संपर्क करें यदि आप कुछ सुझाव देना चाहते हैं या सिर्फ नमस्ते कहना चाहते हैं!

Leave a Comment